एक बार फिर नीरज चोपड़ा ने इतिहास रच डाला, जाने क्या है पूरी खबर

बता दें भारत के स्टार जैवलिन प्लेयर नीरज चोपड़ा ने एक बार फिर इतिहास रच दिया है, उन्होंने लुसाने डायमंड लीग का खिताब अपने नाम कर लिया है बता दें ऐसा करने वाले वह पहले भारतीय प्लेयर बन गए हैं | नीरज चोपड़ा ने अपने ताज में एक और हीरा जड़ लिया है, वह डायमंड लीग मीट के लुसाने चरण का खिताब जीतने वाले पहले भारतीय बन गए | बता दें 24 साल के नीरज चोपड़ा ने इस खिताब को हासिल करने के लिए पहले प्रयास में भाला 89.08 मीटर दूर फेंका, यह उनके करियर का तीसरा सर्वश्रेष्ठ प्रयास था |

Neeraj Chopra Diamond League

जैवलिन प्लेयर नीरज चोपड़ा ने ओलिंपिक गेम्स  में गोल्ड की बरसात की

बता दें कि नीरज चोपड़ा ने शुरुआत में ही बढ़त बना ली थी लेकिन उन्होंने तीसरे प्रयास में हिस्सा नहीं लिया और चौथा प्रयास में फाउल हुआ | पहले प्रयास के दम पर ही उन्होंने लुसाने डायमंड लीग का खिताब अपने नाम कर लिया | बता दें कि ओलिंपिक गेम्स  में पहली बार भारत पर गोल्ड बरसा है। जेवलिन थ्रो में नीरज चोपड़ा ने भारत के लिए गोल्ड मेडल जीता है। यह ट्रैक एंड फील्ड में भारत का पहला गोल्ड मेडल है। पूरा भारत में इस वक्त खुशी का माहौल है। नीरज चोपड़ा की इस शानदार परफॉर्मेंस के बाद देश में और सोशल मीडिया में लोग जश्न मन रहे हैं |

भारत के स्टार जैवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा टोक्यो ओलंपिक में इतिहास रचने के बाद अब रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। एक के बाद एक नई उपलब्धियां 24 वर्षीय नीरज के कदमों को चूम रही हैं। आपको बता दें कि बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स में चोट के कारण हिस्सा नहीं ले पाए थे लेकिन अब चोट के बाद उन्होंने दमदार वापसी की और ज्यूरिख में डायमंड लीग फाइनल्स का खिताब जीतकर इतिहास रच दिया और गोल्ड अपने नाम किया | आपको बता दें 2010 में शुरू हुए इस लीग के 13वें एडिशन में नीरज ऐसा करने वाले पहले भारतीय एथलीट भी बन गए हैं | नीरज चोपड़ा ने 88.44 मीटर की दूरी पर भाला फेंककर ज्यूरिख में भारत के लिए इतिहास रच दिया।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *