इलेक्ट्रिक वाहनों में काम आने वाली बैटरी में यूज होने वाले लिथियम Lithium Ion की अब दुनियाभर में किल्लत

Lithium Battery

Lithium Battery

आपको बता दें कि आयन बैटरी इस्‍तेमाल करने वाले इलेक्ट्रिक व्‍हीकल्‍स के प्रोडक्‍शन में तेजी की वजह से Lithium Ion लिथियम की मांग लगातार बढ़ती जा रही है | इसी कारण दुनियाभर में इसकी सप्‍लाई का संकट गहरा रहा है। चीन के साथ मुकाबला करने के लिए पश्चिमी देशों में नई खदानें लाने की रेस चल रही है। आपको बता दें कि निकट भविष्य में डीजल/ पैट्रोल ईंधन के वाहनों को रिप्लैस करने की योजना है ताकि ग्रीन हाउस गैसों का उत्सर्जन कम किया जा सके और पर्यावरण हितैषी वाहनों के उपयोग में वृद्धि की जा सके । विद्युत रिचार्जेबल वाहन में लीथियम आयन बैटरी का उपयोग होता है। लीथियम आयन बैटरी के उत्पादन में अभी तक चीन का एकाधिकार है। आपकी जानकारी के लिए बता दें जापान ने इलेक्ट्रिक वाहन काफी पहले ही बना दिए थे लेकिन बैटरियों के लिए चीन पर निर्भरता के कारण जापान को मजबूरन क़दम पिछे उठाने पड़े ।

Lithium Ion

कहाँ से मिलती हैं हमें अपने वाहनों के लिए लिथियम बैटरी
आपकी जानकारी के लिए बता दें भारत इन Lithium Ion लीथियम आयन बैटरी के लिए चीन पर पूर्ण रूप से निर्भर है। लीथियम आयन बैटरी में प्रयुक्त मुख्य तत्व कोबाल्ट, मेगनीज, निखिल आदि विश्व में कुल चुनिंदा स्थानों पर ही पाए जाते हैं। रॉयटर्स एजेंसी के अनुसार चीन ने इन तत्वों के महत्व को समझते हुए विश्व के इनके प्राप्ति स्थलों पर कब्जा करना शुरू कर दिया। आज उसके पास 50% से ज्यादा प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष कब्जा है। सूत्रों की मने तो लगभग 2040 तक विश्व में 50% से अधिक वाहनों में इन्हीं बैटरियों की आवश्यकता होगी । चीन इनकी आपूर्ति करने में समर्थ है और भविष्य में भी चीन के इस मामले में नंबर वन रहने की उम्मीद है |

Lithium Ion

लिथियम बैटरी से वाहनों को खतरा
बात करें इससे होने वाले खतरे की तो एक तरफ जहां हम इलेक्ट्रिक वाहनों पर स्विच होने के लिए आगे बढ़ रहे हैं लेकिन Lithium Ion लिथियम-आयन बैटरी के इस्तेमाल से वाहनों में आग लगने का खतरा हमेशा ही बना रहता है | इस बात में कितनी सच्चाई है इसे समझने के लिए ये जानना जरूरी है कि लिथियम-आयन बैटरी कैसे काम करती है ? दरअसल , यदि बैटरी ऑपरेट करने वाला सॉफ़्टवेयर सही तरीके से डिज़ाइन नहीं किया गया है तो इनसे आग लग सकती है | बता दें इलेक्ट्रिक कारों में लिथियम-आयन बैटरी की बड़ी कमजोरी कार्बनिक तरल इलेक्ट्रोलाइट्स का उपयोग है, जो हाई टेम्प्रेचर पर काम करते समय अनस्टेबल और ज्वलनशील होते हैं | एक बाहरी फोर्स जैसे दुर्घटना से भी रासायनिक रिसाव हो सकता है, साथ ही अधिकारी, कार निर्माता और बैटरी निर्माता अक्सर यह खुलासा नहीं करते हैं कि सटीक सुरक्षा जोखिम आखिर क्या हो सकता है |

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *