DART Mission: स्पेसक्राफ्ट से हुई एस्टेरॉयड की भयंकर टक्कर, नजारा दिल दहला देगा

NASA Dart Mission

NASA Dart Mission

DART Mission: दरअसल नासा (NASA) ने 27 सितंबर 2022 की सुबह 4.45 बजे के करीब डाइमॉरफोस नाम के एस्ट्रोइड से अपना स्पेसक्राफ्ट DART Mission को जानबूझकर टकरा दिया गया | आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एस्ट्रोइड से स्पेसक्राफ्ट की यह टक्कर नासा के परिक्षण का हिस्सा था | इस भयंकर टकराव की तस्वीरें लेने के लिए डार्ट मिशन के साथ-साथ इटली के LICIACube सैटेलाइट को लॉन्च किया गया था | लिसिया क्यूब बताया है कि उसने डार्ट मिशन की एस्ट्रोइड से टक्कर की शानदार तस्वीरें ली हैं | ऐसा करके नासा ने इतिहास रच डाला है क्यूंकि ऐसा पहली बार किया गया है |

NASA Dart Mission

एस्ट्रोइड से स्पेसक्राफ्ट की टक्कर की आईं तस्वीरें
एस्ट्रोइड से स्पेसक्राफ्ट की टक्कर के बाद उसकी पहली तस्वीरें आ चुकी हैं | यह तस्वीरें इटली के सैटेलाइट लिसिया क्यूब ने ली हैं जिसकी इन तस्वीरों में साफ देखा जा सकता है कि स्पेसक्राफ्ट के टकराने से डाइमॉरफोस से कितनी रोशनी, धूल, मिट्टी और स्पेसक्राफ्ट के हिस्से अंतरिक्ष में निकले हैं | और इस टकराव से रोशनी की चमक इतनी अधिक थी कि डिडिमोस भी चमक उठा

एस्ट्रोइड से स्पेसक्राफ्ट की टक्कर का वीडियो

अंतरिक्ष में धूल और रोशनी का गुबार चारों तरफ फैल गया | आपको बता दें कि इटली के जानेमाने एस्ट्रोनॉमर जियानलूका मासी ने बताया है कि वो डबल एस्टेरॉयड रीडायरेक्शन टेस्ट यानि कि DART मिशन को वर्चुअल टेलिस्कोप प्रोजेक्ट की मदद से देख रहे थे | जियानलूका मासी ने बताया कि जब डार्ट ने डिडिमोस के चारों तरफ चक्कर लगा रहे डाइमॉरफोस को टक्कर मारी तो अंतरिक्ष में तेज रोशनी और गुबार फ़ैल गया |

NASA Dart Mission

नासा ने रचा इतिहास
नासा ने ऐसा करके भविष्‍य में पृथ्‍वी को एस्‍टरॉयड्स के खतरों से बचाने की तकनीक का परीक्षण कर लिया है जोकि एक सफल परिक्षण रहा | आपको बता दें कि नासा का स्‍पेसक्राफ्ट, पृथ्‍वी से 1.1 करोड़ किलोमीटर दूर डिमोर्फोस नाम के एक एस्‍टरॉयड उपग्रह से टकराया था । यह टक्‍कर कितनी प्रभावी रही, इसकी तस्‍वीरों में साफ़ देखा जा सकता है | आपको अवगत करा दें कि अगर कोई एस्टेरॉयड धरती से 80 लाख किलोमीटर दूरी की रेंज में है तो उसे पोटेंशियली हजार्ड्स ऑब्जेक्ट्स (PHO) कहा जाता है | नासा और दुनिया भर के वैज्ञानिक सूरज की कक्षा में चक्कर लगा रहे 100 से 165 फीट व्यास या इससे बड़े एस्ट्रोइड पर नजर बनाये रहते हैं |

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *