Word’s oldest tree: दुनिया के सबसे पुराने पेड़ की खोज हुई, इतना विशाल कि छूता है आसमान को, उम्र बताई जा रही इतने हजार साल

The Oldest Tree in the World

The Oldest Tree in the World

World's oldest tree:पृथ्वी का सबसे पुराना पेड़ कौन सा है? कभी आपने सोचा है | और अगर यदि आपसे यह सवाल पूछा जाये तो आप इसके जवाब में सोच में पड़ जाएंगे लेकिन इसका जबाब नहीं सूझेगा | इस सवाल का जवाब हम आपको देते हैं, अभी हाल ही में एक पेड़ के बारे में जानकारी मिली है, जो दुनिया का प्राचीनतम पेड़ माना जा रहा है | दक्षिण अमेरिकी देश चिली में यह प्राचीन पेड़ मिला है | इस पेड़ के बारे में जानकार बताते हैं कि यह दुनिया का सबसे पुराना पेड़ है, जिसकी उम्र लगभग 5400 साल मानी जा रही है | और इस प्राचीन पेड़ का नाम अबुएलो बताया जा रहा है | आजकल इसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर भी जमकर वायरल हो रहा है | एक जलवायु वैज्ञानिक ने बताया है कि ये पेड़ खतरे में है और इसे संरक्षित करने की जरूरत है |
The Oldest Tree in the World

पेड़ का कंप्यूटर मॉडल से निरिक्षण करने के बाद
सुनसान घाटी में मौजूद इस प्राचीन पेड़ को देखकर ये मालूम पड़ता है जैसे इस पेड़ ने अपने ऊपर पूरा आसमान ओढ़ रखा हो | दावा ये भी है कि ये पेड़ दुनिया का सबसे पुराना पेड़ हो सकता है | इस पेड़ का एक नए कंप्यूटर मॉडल से निरिक्षण करने के बाद इस पेड़ को 5400 साल पुराना बताया जा रहा है, लेकिन इस पेड़ को सबसे पुराना पेड़ करार देने के लिए और भी सबूत और साक्ष्य की जरूरत है | अगर ये सभी साक्ष्य मिल जाते हैं तो ये पेड़ धरती का सबसे पुराना पेड़ साबित हो जाएगा | दरअसल ग्रैन अबुएलो की सही उम्र को लेकर अभी तक कशमकश है, क्योंकि पेड़ की सही उम्र का पता लगाने के लिए डेंड्रोक्रोनोलॉजी विधि से इसकी जांच अभी तक नहीं की गई है | ग्रैन अबुएलो का वर्तमान का डाटा अभी अधूरा है | इस मॉडल के लिए इस्तेमाल किए गए डेटा को अभी पब्लिक नहीं किया गया है |

The Oldest Tree in the World

5400 साल पुराना प्राचीन पेड़ है खतरे में
पेरिस में क्लाइमेट एंड एनवायर्नमेंट साइंसेज लेबोरेटरी के एक जलवायु वैज्ञानिक का इस पेड़ के बारे में कहना है कि भले ही पेड़ की सही उम्र का पता अभी तक नहीं चल पाया हो लेकिन ये पेड़ खतरे में है और इसे संरक्षित करने की जरूरत है | वैज्ञानिकों का मानना है कि टूरिज्म की वजह से इस पेड़ पर खतरा मंडरा रहा है, साथ ही क्लाइमेंट चेंज का भी इस पेड़ पर गहरा असर पड़ा है | चिली के एलर्स कॉस्टेरो नेशनल पार्क में मौजूद ग्रैन अबुएलो एलर्स पेड़ की प्रजाति है जिसकी ऊंचाई लगभग 60 मीटर है | शुरू में इस पेड़ को 3500 साल पुराना माना गया लेकिन 2020 में जोनाथन और उनके सहयोगियों ने पाया कि इस पेड़ के छल्ले 2465 साल पुराने हैं | अब कंप्यूटर मॉडल के आधार पर इस पेड़ की उम्र 5400 साल मानी जा रही है |

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *