February 27, 2024

Elon Musk को लगा 15 अरब डॉलर का झटका, Tesla के शेयर्स में गिरावट दर्ज, जाने पूरी खबर

दुनिया के सबसे रईस व्यक्ति और इलेक्ट्रिक कार मेकर Tesla के चीफ Elon Musk की वेल्थ एक दिन में 15 अरब डॉलर से अधिक घटने की जानकारी मिली है । सूत्रों की माने तो इसका कारण टेस्ला के शेयर्स में चार महीने में सबसे अधिक गिरावट बताया जा रहा है । कंपनी की ओर से कस्टमर्स को कारों की डिलीवरी में हो रही देरी की वजह से इसका असर टेस्ला के शेयर्स पर पड़ा है | आपको बता दें कि मस्क की 4 अक्टूबर को कुल वेल्थ लगभग 223 अरब डॉलर की थी । टेस्ला ने पिछले तीन महीनों में कस्टमर्स को 3,43,830 व्हीकल्स की डिलीवरी की है । यह एनालिस्ट्स के 3,58,000 व्हीकल्स की डिलीवरी के अनुमान से कम है । बता दें मस्क की वेल्थ एक दिन में छह प्रतिशत से अधिक घटी है । टेस्ला के शेयर का प्राइस सोमवार को 8 प्रतिशत से अधिक गिरा था । यह जून की शुरुआत के बाद से कंपनी के शेयर में सबसे बड़ी गिरावट मानी जा रही है ।

Elon Musk loses $15 billion in a day

इस पर Tesla कंपनी का क्या कहना है?
Tesla कंपनी का इस पर कहना है कि उसके लिए प्रत्येक तिमाही के अंत में व्हीकल्स की डिलीवरी हमेशा बढ़ जाती है और ट्रांसपोर्टेशन कैपेसिटी की कमी से कस्टमर्स तक कारों को पहुंचाने में देरी हो जाती है | आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मस्क टेस्ला के अलावा स्पेस रॉकेट बनाने वाली SpaceX के भी चीफ एग्जिक्यूटिव के तौर पर हैं । उनके पास सोशल नेटवर्किंग कंपनी Twitter में भी पार्टनरशिप है । उन्होंने ट्विटर को खरीदने की डील को पूरा करने का इरादा भी बताया है । अभी हाल ही में चीन की बड़ी ऑटोमोबाइल कंपनियों में शामिल BYD ने टेस्ला को मात देकर ग्लोबल लेवल पर सबसे अधिक इलेक्ट्रिक व्हीकल (EV) की बिक्री का रिकॉर्ड अपने नाम किया है । ऐसा इतिहास में पहली बार हुआ है कि किसी कंपनी ने टेस्ला जैसी दिग्गज कंपनी को पीछे छोड़ा है |

इसे भी पढ़ें:- DART की एस्‍टरॉयड से टक्‍कर के बाद 5 आफ़तें पृथ्‍वी के करीब आगईं, जानें किस खतरे में है पृथ्वी

Elon Musk loses $15 billion in a day

सेमीकंडक्टर की कमी और महामारी कारण बना Tesla के शेयर्स में गिरावट का
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि BYD ने मौजूदा फाइनेंशियल ईयर की दूसरी तिमाही में लगभग 3,54,000 EV बेचकर 266 प्रतिशत की वार्षिक ग्रोथ को पाया है । इस दौरान टेस्ला की सेल्स लगभग 2,54,000 यूनिट ही रह सकी | Counterpoint के ग्लोबल EV सेल्स ट्रैकर के अनुसार, इन व्हीकल्स की कुल सेल्स दूसरी तिमाही में वर्ष-दर-वर्ष आधार पर 61 प्रतिशत बढ़कर 21.8 लाख यूनिट की हो रही है । अभी तक इस मार्केट में चीन 12.4 लाख यूनिट्स के साथ टॉप पर अपनी जगह बनाये हुए है । चीन में इस बिक्री में साल में लगभग 92 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई | इसके अलावा यूरोप और अमेरिका का इसमें दूसरा और तीसरा स्थान रहा | ऐसा पहली बार सामने आया है कि जब किसी ऑटोमोबाइल कंपनी ने EV की सेल्स में टेस्ला जैसी कंपनी को पीछे छोड़ दिया हो | टेस्ला ने इस गिरावट का बड़ा कारण सेमीकंडक्टर की कमी और महामारी को बताया है । लेकिन कंपनी को इस वर्ष की दूसरी छमाही बेहतर होने की उम्मीद है |

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *