February 27, 2024

NASA JWST: अब खुलेगी ब्रह्मांड में मौजूद इस अकेली आकाशगंगा की गुत्थी, जेम्‍स वेब टेलीस्‍कोप ने किये कई राज उजागर

Now the mystery of this only galaxy present in the universe will open

Now the mystery of this only galaxy present in the universe will open

NASA JWST: क्या आप जानते हैं? कि इस दुनिया में हम अकेले नहीं हैं । आपको बता दें कि सिर्फ इंसान ही एक अकेला ऐसा नहीं जो अकेला होता बल्कि आकाशगंगाओं के साथ भी ऐसा होता है । हाल ही में अभी अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (Nasa) के जेम्स वेब स्पेस टेलीस्कोप (JWST) ने पृथ्वी से 30 लाख प्रकाश वर्ष दूर एक अकेली आकाशगंगा की हैरान करने वाली इमेज को कैप्चर कर एजेंसी को भेजा है | जैसा की हम इस ख़ास तस्‍वीर में देख रहे हैं कि इस क्षेत्र में मौजूद हजारों प्राचीन तारे भी चमक रहे हैं । नासा ने जेम्स वेब स्पेस टेलीस्कोप द्वारा खींची इस इमेज को ट्विटर पर शेयर किया है । बता दें कि इस तस्‍वीर को NIRCam की मदद से क्लिक किया गया है । नासा के अनुसार जेम्‍स वेब के इस कैमरा की खूबियां इसे बाकी टेलीस्‍कोप से अलग करती हैं ।

Now the mystery of this only galaxy present in the universe will open

इसे भी पढ़ें- क्या आप जानते हैं? 1 हजार वोल्‍ट तक बिजली पैदा कर सकती हैं मधुमक्खियां

WLM आकाशगंगा की अब तक की सबसे शानदार इमेज को किया कैप्चर
आपको बता दें कि नियर-इन्फ्रारेड कैमरा अपने ऑब्‍जेक्‍ट में काफी अंदर तक झांकने में सक्षम है और यह प्रमुख डिटेल्‍स को सामने ला देता है । बताया जा रहा है कि जेम्स वेब स्पेस टेलीस्कोप ने जिस आकाशगंगा को कैप्‍चर किया है, उसका नाम वुल्फ-लंडमार्क-मेलोट (डब्लूएलएम) (Wolf–Lundmark–Melotte (WLM)) है जोकि एक बौनी आकाशगंगा है । इसे सबसे पहले साल 2016 में स्पिट्जर स्पेस टेलीस्कॉप की मदद से खोजा जा चुका था । लेकिन अब इसकी करंट इमेज को जेम्‍स वेब ने खींचा है, जोकि काफी स्‍पष्‍टता नजर आ रही है । अगर डेली मेल की रिपोर्ट को मानें तो WLM आकाशगंगा की गैस उसी के समान है जिसने प्रारंभिक ब्रह्मांड में आकाशगंगाओं का निर्माण किया होगा । यह आकाशगंगा हमारी आकाशगंगा से 10 गुना छोटी है ।

Now the mystery of this only galaxy present in the universe will open

इसे भी पढ़ें- सूरज की सतह पर हुआ कुछ ऐसा, जानें पृथ्वी को होगा कितना खतरा

आकाशगंगाओं में तारों के निर्माण की अब हर गुत्थी सुलझेगी
आपको जानकर हैरानी होगी कि WLM आकाशगंगा की खोज साल 1909 में मैक्स वुल्फ द्वारा हो चुकि थी । यह आकाशगंगा हमारी मिल्‍की-वे (Milky Way) के करीब है, लेकिन कुछ हद तक अलग-थलग है । रटगर्स यूनिवर्सिटी के क्रिस्टन मैकक्विन का मानना है कि यह आकाशगंगा बाकी सिस्‍टमों के साथ इंटरेक्‍ट नहीं करती । हालांकि हाल के समय में इसमें तारों का निर्माण शुरू हुआ है, इसीलिए वैज्ञानिक इसे स्‍टडी करने के इच्छुक हैं । खगोलविद यह ऑब्‍जर्व कर सकते हैं कि बौनी आकाशगंगाओं में तारों का निर्माण कैसे होता है | अगर जेम्‍स वेब स्‍पेस टेलीस्‍कोप की बात करें तो यह अंतरिक्ष में मौजूद अबतक का सबसे बड़ा टेलीस्‍कोप है । नासा ने इसे पिछले साल दिसंबर में लॉन्‍च किया था । यह दूरबीन अब तक डीप स्‍पेस की कई शानदार और हैरान कर देने वाली तस्‍वीरें दिखा चुकी है ।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *