Artemis 1 Launch: नासा ने रच डाला इतिहास, तीसरा मून मिशन लॉन्च, चांद पर इंसान जायेगा अब दोबारा

Artemis 1 Launch

Artemis 1 Launch

Artemis 1 Launch: आखिरकार Nasa ने अपने Artemis 1 mission लॉन्च कर ही दिया। बता दें कि ऐसा करके नासा ने इतिहास रच डाला है। अमेरिका में फ्लोरिडा स्थित कैनेडी स्पेस सेंटर से लगभग एक साल की देरी के बाद कल दोपहर 12.18 बजे नासा का Nasa Moon mission लॉन्च हुआ लांच किया गया। आपको बता दें कि इस मिशन के तहत SLS Rocket के ऊपर Orion spacecraft को रवाना किया गया। भविष्य में इस मिशन का लक्ष्य आर्टिमिस मिशनों के लिए जमीन तैयार करना होगा। नासा एक बार फिर से मून की सतह पर इंसान को भेजना चाहती है। इसके लिए वह मून पर इंसानो के लिए एक स्थायी बेस बनाने के बारे में सोच रही है। क्योंकि इससे अंतरिक्ष यात्री चन्द्रमा पर लम्बे समय तक रह सकेंगे।

Artemis 1 Launch “Moon Mission”

अब तक दो बार रद्द हो चुका है यह मिशन
दरअसल 16 नवंबर को नासा के पास इस मिशन के लॉन्च के लिए 2 घंटे की लॉन्च विंडो अवेलेबल थी। कुछ तकनीकी दिक्कतों के कारण इसमें थोड़ी मशक्कत करनी पड़ी, लेकिन समय रहते सारी दिक्कतों का निवारण करने के बाद दोपहर करीब 12.18 बजे एसएलएस रॉकेट को अंतरिक्ष में रवाना कर दिया गया। बता दें कि यह मिशन अब तक दो बार रद्द होने के बाद अब तीसरी बार में लॉन्च किया गया। स्पेस लॉन्च सिस्टम (SLS) रॉकेट के RS-25 इंजन में खराबी के कारण यह मिशन पहली बार रद्द किया गया और इसके बाद लिक्विड हाइड्रोजन ईंधन फीड लाइन के बीच ‘क्विक डिस्कनेक्ट’ इंटरफेस में हाइड्रोजन रिसाव के कारण दूसरी बार रद्द हुआ।

इसे भी पढ़ें- अब खुलेगी ब्रह्मांड में मौजूद इस अकेली आकाशगंगा की गुत्थी, जेम्‍स वेब टेलीस्‍कोप ने किये कई राज उजागर

अब इंसान फिर से जा सकेगा चन्द्रमा पर
आपको बता दें कि नासा इस मिशन के जरिये चन्द्रमा पर फिर से इंसान को भेजना चाहता है। इस मिशन के लिए नासा ने ख़ास आर्टेमिस मिशन तैयार किया है जोकि यह बस इसकी शुरुआतभर है। बता दें कि नासा ने अबतक का सबसे पावरफुल रॉकेट तैयार किया है जिससे इस मिशन को पूरा किया जा सके है। जिसको स्पेस लॉन्च सिस्टम (SLS) रॉकेट नाम दिया गया है। लेकिन अभी नासा ने इसके बारे में जानकारी शेयर करते हुए कहा है कि आर्टेमिस-1 मिशन के साथ ही अंतरिक्ष यात्रियों को चंद्रमा पर अभी नहीं भेजेगी। सबसे पहले नासा चंद्रमा पर एक मानव रहित ओरियन कैप्सूल भेजने के बारे में सोच रही है । इसके बाद ही इंसान को चांद पर भेजने के बारे में कोई सटीक फैसला होगा।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *