Fish Eats Own Babies: वैज्ञानिकों ने खोजी ऐसी मछली, जो खुद ही खा जाती है अपने बच्चों को, वजह जान रह जाओगे दंग

This fish eats its own babies scientists have discovered

This fish eats its own babies scientists have discovered

Fish Eats Own Babies: एक ‘माँ’ शब्द ही ऐसा है जब भी हमें सुनाई देता है तो सबसे पहले हमारे मन में करुणा, ममता और दया जैसी भावनाओं जैसा अहसास होता है | क्योंकि एक माँ ही है जो अपने बच्चो के लिए अपनी जान देकर भी उनकी रक्षा करती है | लेकिन कैसा हो? जब आपको पता चले कि एक माँ जन्म देने के बाद अपने आधे बच्चों को खुद ही खा जाती है | क्यों चौंक गए ना, लेकिन यह बिलकुल सच बात है | आपको बता दें कि वैज्ञानिकों एक टीम ने एक ऐसी मछली का पता लगाया है जो खुद ही अपने बच्चों को खा जाया करती है | लेकिन सवाल यह है कि ऐसा वो मछली एक माँ होने के बावजूद क्यों करती है? वैज्ञानिकों ने इस पर रिसर्च करके पता लगाया है की ऐसा वो क्यों करती है | आप भी यह जानकर भौंचक्के रह जाओगे की ऐसा वह मछली करती क्यों है | आइये जानते हैं इसके बारे में पूरी डिटेल्स में |

Cichlid fish eats its own babies

कब बनाती है यह मछली अपने बच्चों को अपना निवाला
दरअसल, दुनियाभर के वैज्ञानिक समुद्र के अंदर छुपे रहस्यों का पता लगाने में लगे रहते हैं | इनमे से एक रीसर्च मछलियों के व्‍यवहार और जीवन को समझने के लिए चल रही है | इस रिसर्च में सेंट्रल मिशिगन यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने एक ऐसी मछली जिसका नाम “सिक्लिड मछली है” के बारे में दिलचस्‍प जानकारी जुटाई है | वैज्ञानिकों की इस रिसर्च के अनुसार यह अपने अंडों को निषेचित करने के बाद लगभग दो हफ्तों तक बच्‍चों को अपने मुंह में पालने के लिए रखती है लेकिन उनमें से 40 फीसदी बच्‍चों को खा जाती है। वैज्ञानिकों ने पाया कि ये मछली तब अपने बच्‍चों को खा जाती है, जब वो परिपक्‍व होने वाले होते हैं और वो जब मुंह से बाहर निकलने की कोशिश करते हैं।

इसे भी पढ़ें- प्रतिदिन सुबह उठकर करें यह कार्य, जीवन में नहीं रहेगी धन की कमी

क्यों खाती है यह मछली अपने बच्चों को
आपको बता दें कि रिसर्चर्स ने मछलियों की प्रजनन संबंधी आदतों के बारे में जब पता लगाना शुरू किया तो लैब में हुई रिसर्च में शोधकर्ताओं ने देखा कि करीब 80 मछलियों ने निषेचित हुए अंडों को 2 सप्‍ताह तक तो अपने मुंह में रखा, इस दौरान उन्‍होंने नियमित रूप से खाना नहीं खाया। रिसर्चर्स को लगता है कि शायद ये मछलियां अपने बच्‍चों को खाकर कुछ हासिल कर रही हैं। ऐसा भी हो सकता है कि इससे उनके स्‍वास्‍थ्‍य को कोई फायदा मिल रहा हो। वैज्ञानिक इस बात को भी दिलचस्‍प मान रहे हैं कि मछली अपने नवजात बच्‍चों को मुंह में रखकर कई दिन तक बिना खाए जीवित रह सकती है | लेकिन यह बात काफी हैरान करती है कि एक माँ ही अपने बच्चों को खा जाये |

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *